मोदी ने इतिहास रच दिया ,देश मे पहली बार 7 महिलाये मंत्रिमण्डल मे शामिल हुई!

women-ministers

अफ़ज़ल ख़ान

आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और उन की मंत्रिमण्डल जब शपथ ले रहे तो उन्हो ने एक इतिहास रच दिया था. भारत के 67 साल के इतिहास मे पहली बार 7महिलाये एक साथ मंत्रिमण्डल मे शामिल की गयी. और उस मे भी 6 को कॅबिनेट मंत्री का दर्जा दिया गया है. इस से पहले और सभी राजनीतिक पार्टिया 1-2 महिला को मंत्रिमण्डल मे शामिल कर खानापूर्ति करते थे.नरेन्द्र मोदी ने अपने मंत्रिमण्डल मे 7 महिलाओ को मंत्री बना कर उन सभी विरोधियो का मुंह बंद कर दिया जो मोदी को महिला विरोधी बता रहे थे. मेनका गाँधी, सुषमा स्वराज ,हरसिमरत कौर बादल के अतिरिक्त स्मिरती ईरानी, नजमा हेपतुल्लाह और उमा भारती को भी मंत्रिमण्डल मे शामिल किया गया है. इस के अतिरिक्त पर्टी की परवक्ता निर्मला सीतारमण को आज़ाद राज्य मंत्री के तौर पर सरकार मे शामिल किया गया है.

नरेन्द्र मोदी के मंत्रिमण्डल मे नजमा हेपतुल्लाह अकेली मुस्लिम मंत्री श्हामिल है, मालूम हो के नजमा हेपतुल्लाह मौलाना अबुल कलाम आज़ाद की नवासी है और एक लंबे समय तक कांग्रेस मे रही मगर 2004 मे कांग्रेस छोड़ कर भाजपा मे शामिल हो गयी थी.स्मिरती ईरानी ने कॉंग्रेस के राहुल गाँधी के खिलाफ अमेठी से चुनाव लड़ा था मगर वो एक लाख वोटो से चुनाव हार गयी थी, मगर उन के इस अच्छे पर्फॉर्मेन्स के लिये उन्हे ए इनाम मिला.

(Visited 9 times, 1 visits today)

12 thoughts on “मोदी ने इतिहास रच दिया ,देश मे पहली बार 7 महिलाये मंत्रिमण्डल मे शामिल हुई!

  • May 26, 2014 at 6:05 pm
    Permalink

    मेरा भारत महान

    Reply
  • May 26, 2014 at 6:07 pm
    Permalink

    क्यों भाई,आ गये ना औकात में,मैने बहुत पढ़ा था जो तू चुनाव से पहले मोदी के बारे मे उल्टा पुलटा लिखता था,खैर कोई बात नही उनका दिल बहुत बड़ा हैं,तेरे जैसे बच्चों को माफी मिल जायेगी|

    Reply
    • May 27, 2014 at 6:41 am
      Permalink

      तीक आनंद जी, सादर अभिवादन। ———————————————- जिस पोस्ट का लिंक आपने दिया है वो मैंने भी पढ़ी है। लेकिन सिर्फ उस लेख के आधार पर ब्लॉग लेखक (अफ़जल ख़ान) के लिए रंगा सियार जैसे शब्दों का इस्तेमाल उचित नहीं है। आपने औक़ात वाली बात उठाई…..प्रतीक जी ये भी आपत्तिजनक है। कैसे? आपने देखा होगा कि मुलायम सिंह यादव ने मोदी का कितना और किस हद तक विरोध किया। मेरे ख्याल से मुलायम के विरोध के सामने तो अफ़ज़ल ख़ान जी का मोदी विरोध कुछ भी नहीं। लेकिन शपथ ग्रहण समारोह में देखिए कि कैसे अमित शाह सब कुछ भूलकर उन्हीं मुलायम को पिछली पंक्ति से ज़बरदस्ती उठाकर अगली पंक्ति में ले जा रहे हैं। मोदी विरोध की हद ये थी कि कुछ लोगों ने तो यहां तक कह दिया था कि अगर मोदी पीएम बने तो वो देश छोड़ देंगे। प्रतीक जी मैं ये कहना चाहता हूं कि अब जबकि मोदी पीएम बन गए हैं तो उनके समर्थकों को भी बड़प्पन दिखाना चाहिए। ठीक वैसे ही जैसे मोदी ने ख़ुद दिखाया है।मोदी विरोधियों से संबंध ख़राब करने की बजाय उनसे संबंध बेहतर करने का प्रयास होना चाहिए। ठीक वैसे ही जैसे नेता लोग चुनाव के दौरान कितना भी लड़़ लें लेकिन दोस्ती की गुंजाइश हमेशा रखते हैं।

      Reply
    • May 27, 2014 at 6:43 am
      Permalink

      तीक जी खन साहिब ने एषा कुछ नही लिखा था जो मोदी के खिलाफ था/ ए सच्चाई है की 40% आबादी अभी भी मोदी के खिलाफ है/ ओर एक लेखक पब्लिक की आवाज होता है/ इन्होने मोदी के कम के बारे मे एशि कोई गलत टिपणी नही की

      Reply
  • May 26, 2014 at 6:45 pm
    Permalink

    MODI JEE EIK AURAT RAKH NA SAKE….AB SAAT KE SATH

    Reply
  • May 26, 2014 at 6:46 pm
    Permalink

    to 50 ministers me 7 orten hain na, yani 14 percent. hahahaha

    Reply
  • May 26, 2014 at 7:07 pm
    Permalink

    चाहे कुछ भी हो एक बात पता चल गई आप सेक्युलर है और धर्म जाती से उपर उठ कर सोचते है ,धन्यबाद आपको

    Reply
  • May 27, 2014 at 3:59 am
    Permalink

    और मंत्रिमण्डल में शामिल महिलाएं सिर्फ शो पीस नहीं हैं सबका ट्रेक रेकॉर्ड भी है ….

    Reply
  • May 27, 2014 at 4:02 am
    Permalink

    5 वी फ़ैल महिला को संसद और मंत्री बना कर खुश होरहे हो शर्म नहीं आती किया भविष्ये तै किया है तुमलोगो ने भारत क.

    Reply
  • May 27, 2014 at 4:04 am
    Permalink

    aasha ram aur ramdev ke swagat ka poora saman tayyyar hai………..kya kahn

    Reply
  • June 8, 2014 at 4:26 pm
    Permalink

    YES ITS A HISTORICAL MOMENT THAT MODIS CABINET IS CONSISTING OF A HISTORICAL WOMEN MINISTERS,AS WELL IN D 22 CRORE MUSLIMS OF D COUNTRY ONLY ONE MUSLIM HE GOT TO REPRESENT THEM,:D,,,,HOW SICK MINDED IS MODI,JUST IMAGINE.

    Reply
    • June 8, 2014 at 8:10 pm
      Permalink

      Wasif Kirmani Sahab

      Aap khud bataye ki musalman kitne jeet kar aaye hai, jo ministry me shaamil kiya jaye ga. aap kyo bhul rahe hai ke is baar sab se kam musalman jaat kar aaye hai aur UP se ek bhi nahi.

      Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *